डिलीवरी के Bag में क्या रखें

डिलीवरी के समय जब प्रसव पीड़ा शुरू हो जाती है , गर्भवती महिला स्वंय लेबर पेन में होती है , और घर के लोग संभालने में होते हैं ! ऐसे टाइम में ऐसा लगता है कि जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचा जाए। ऐसे में आपको मेटरनिटी बैकपैक करने का उस समय वक्त नहीं होता है। अगर कोई दूसरा बैकपैक कर रहा भी होता है तो उसे हर सामान, जो आपने सोचा था, आप आखरी टाइम में बैंक में रखेंगे वह मिले जरूरी नही।  इसलिए प्रेगनेंसी के 36 वें सप्ताह से आपको मैटरनिटी बैकपैक कर रख लेना चाहिए। क्योंकि कई बार दी गई डिलीवरी डेट से पहले डिलीवरी करवानी पड़ जाती है। कई बार प्रीमेच्योर डिलीवरी भी हो जाती है।  ऐसे मैं आपको बैग तो पहले से ही पैक करके रखना चाहिए। ताकि अस्पताल में आपको किसी चीज के लिए दिक्कत ना हो।  नॉर्मल डिलीवरी के लिए 2-3 दिन, तो सी सेक्शन के लिए 5 दिन तक अस्पताल में रुकना पड़ सकता है।  ऐसे मैं आपको इस हिसाब से हर वह सामान , जो आपको लगने वाला है , वह अपने बैग में रख लेना चाहिए। लिस्ट बनाइये कि क्या-क्या जरूरी सामान है आपके लिए, आपके बच्चे के लिए, और आपके पार्टनर के लिए। अपनी सारी जरूरी डाक्यूमेंट्स , हॉस्पिटल फाइल्स इसे ध्यान से रखें।  बाकी भी अन्य जरूरी चीजें आज हम आपको बताएंगे ,डिलीवरी मैटरनिटी बैंक में क्या-क्या रखें !

मां के लिए बैग में रखने वाली चीज है

१) कानों को ढक कर रखने के लिए स्कार्फ रखें।  दो पेरस्टॉकि बदल बदल कर पहन सक। डिलेवरी के बाद कानो में हवा नहीं जानी चाहिए , इसलिए हमारे बड़े बुजुर्गों के अनुसार डिलीवरी के बाद कानों को ढक कर रखना चाहिए।

२) पैरों के लिए मोज़े रखनी चाहिए। यह भी आप 3-4 जोड़ी रख लीजिए।  मोज़े या  स्लीपर पहनकर ही रखना चाहिए।

३) बाथरूम स्लिपर्स रख लीजिए।

४) सेनेटरी पैड वैसे तो उस समय अस्पताल की तरफ से ही उपलब्ध कराई जाती हैं लेकिन आप फिर भी सैनिटरी पैड्स रख लीजिए।  डिलीवरी के बाद ब्लीडिंग होने के कारण पैक की जरूरत तो होती ही  है।

५) फीडिंग ब्रा भी २-३  रख लीजिए ।यह फीडिंग करते समय आसानी से ओपन एंड क्लोज हो जाती है।  यह भी ध्यान से रख लीजिए।

६) मेकअप किट में डेली तैयार होने का सामान जैसे कंगी, bow , क्लचर , लिप बाम , मॉइश्चराइजर रखें।

७) मोबाइल का चार्जर रखें।

८) अपने लिए ढीली ढाली मैक्सी, जो फ्रंट ओपन होती है, वह ऐसी मैक्सी / फिटिंग गाउन ३-४ रखे , क्योंकि डिलीवरी के बाद आपको यही पहनना होता है। कॉटन का १-२ दुपट्टा भी रख ले। कोई आया गया तो आप गाउन के ऊपर ले सकती हैं। १-२  जोड़ी नॉर्मल सूट जो घर जाते समय पहनेंगी , वह भी रखें । अंडर गारमेंट भी रखें।

९) शॉल भी रख ले कई बार ठंड हो तो जरूरत लगती है।

१०) ओढ़ने की चादर भी  रख ले।

११) हेल्दी स्नैक्स के ऑप्शन रखें ,यह जब आप हॉस्पिटल जाने वाले हो तभी ही रखें।

१२) एक नोटपैड रखिये। बहुत बार डॉक्टर पूछते है कि बच्चों ने कितने-कितने बजे फीड किया  है, इसके लिए आप नोट कर के रख सकती हैं।

१३) अपना वॉलेट भी हमेशा बैग में रखे , क्या पता कब जरुरत पड़ जाए ?

१४) अपनी मेडिकल रिपोर्ट व जरूरी मेडिसिन भी रख ले, कई बार हमें जो डॉक्टर स्टार्टिंग को देख रहे होते हैं , अचानक से बर्थ डिलीवरी के टाइम पर नहीं आ पाते , तो ऐसे में नए डॉक्टर को आपकी सारी रिपोर्ट्स व फाइल की जरूरत पद सकती है इसलिए यह सामान जरूर रखें

१५) जरूरी आईडी भी रखिए कई बार अस्पताल में दिखाना पड़ता है।

१६) तोलिया व नैपकिन रुमाल कॉटन बॉल्स की रखी है

१७) ब्रश छोटा आइना, टिशू पेपर, चश्मा, टूथपेस्ट, सेनीटाइजर, हैंड वॉश भी रखें।

१८) थरमस गरम पानी के लिए ,एक चाकू ,स्टील की कटोरी, प्लेट, चम्मच रखे जरूरत पड़ती ही है।

बच्चे के लिए जरूरी सामान

१) नवजात बच्चे को हमेशा सॉफ्ट व धुले कपड़े पहनाने चाहिए। शिशु को पहनाने वाले कपड़े डेटोल से धुले व धुप दिखाए होने चाहिए। कई घरों में आज भी जन्म  के कुछ दिन तक नए कपड़े नहीं पहनाते , ऐसे में वह पहले शिशु के कपड़े रखते हैं।  अच्छे से डेटोल से धोकर व धुप दिखाकर बैग में भरकर रखते हैं। आप अगर नए कपड़े पहनाना भी चाहती हो तो जरूर पहनाये बस वे धुले होने चाहिए।  ७-८ जोड़ी कपड़े रखें।

२) शिशु की nappy , लंगोट एक-दो दर्जन रख लीजिए, डायपर्स भी रखें। स्टार्टिंग में बच्चे बहुत बार पीपी करते हैं।  nappies काफी लगती है , डायपर डॉक्टर से पूछ कर पहना सकते हैं।

३) शिशु को लपेटने (Swadel ) का कपड़ा कॉटन का रख लीजिए। लपेट कर रखने से आराम से नींद करते हैं।

४) वैसे तो जन्म पश्चात माँ का ही दूध पिलाया जाता है , लेकिन कभी कभार माँ का मिल्क नहीं आता ऐसे में पैकेट वाले दूध पाउडर , डॉक्टर की सलाह से रखें।

५) कटोरी, चम्मच रखिए। थरमस भी रखें ,बेबी का टॉवल, सॉफ्ट नैपकिन, मुंह पोछने के लिए रखें।

६) बेबी के लिए टोपी, मोज़े , स्वेटर , ब्लैंकेट रखें।

७) वेट टिशु रखें।

८) डेटॉल रखें।  बच्चों के कपड़े या अपने कपड़े धोये तो उसमें डेटोल जरूर डालें।

९) बच्चा सोता है वहां बिछाने के लिए गोदड़ी , ड्राई sheet , प्लास्टिक यह भी रखें।

१०)दूध पिलाते समय गली में लगने वाला कपड़ा रखें

११)  बेबी की मच्छरदानी रखें।

१२) बेबी सोप , मोशुराइजर / बेबी बॉडी लोशन , तेल रखें।

१३) थर्मामीटर रखें।

१४) नाख़ून  काटने के लिए छोटा नेल कटर रखें।

१५) sanitizer रखे पास क्योंकि हर कोई मिलने आता है तो बच्चे को छूने से पहले सेनीटाइजर जरूर दें।

पार्टनर  के लिए रखे सामान

१)आपके साथ जो भी पार्टनर चाहे वह आपके हस्बैंड हो या कोई और उनके लिए भी कपड़े रखें। towel , napkin रखे।

२) ओढ़ने बिछाने की चादर रखें।

३) हस्बैंड अपनी आईडी, वॉलेट ,अगर कोई बीमा है तो उसके कागज, उनकी नाईट ड्रेस, snacks ,मोबाइल चारजर रखें।

४) टूथ ब्रश , पेस्ट , नैपकिन , फेस वाश साबुन हैंडवाश रखें।

५) समय बिताने के लिए कुछ बुक्स मैगजीन रखना हो तो वह भी रखें।

यह सभी सामानों की अच्छी से अलग-अलग पैकेट बनाकर , की किस पैकेट में किसका सामान है ,या अलग-अलग छोटे-छोटे पैक रेडी कर रूम में रखें।  जब हॉस्पिटल जाने का समय आए, तब इन बैग में सिर्फ हेल्दी स्नैक्स व पानी की बोतल , चार्जर वॉलेट ,मेडिसीन , मेडिकल फाइल रिपोर्ट्स ऐसे सामान जो रोज यूज़ हो रहे हैं बस वही बाकि रखें।  बाकी पहले से पैक कर के रख दे।  ताकि बाद में आपको परेशानी ना हो, तो आपको सिर्फ बैग पकड़ो और अस्पताल जाओ यही काम रहेगा। 

निष्कर्ष

डिलीवरी का टाइम बहुत ही खास होता है।  आप एक नन्ही जान को इस दुनिया में लाने वाले होती हैं। ऐसे में आपके मन में हजार सवाल उठ रहे होते है।  तो इस समय को एंजॉय कीजिए और उस समय के लिए पहले से पूरी तरीके से तैयारी करके , बैकपैक करके रखिए।  ताकि  end moment में आप सिर्फ अपना ध्यान रखें।  बाकी किसी चीज की चिंता ना हो। और अपने अपने आप को जितना हो सके शांत व  खुश रखें । अपने डॉक्टर से कांटेक्ट बनाए रखें । कुछ भी हो चाहे रात के समय क्यों ना हो , अब आप अपने डॉक्टर से टच में रहे।  अपनी कंडीशन बताते रहे , कुछ fund हमेशा एक पैकेट में निकाल निकालकर अलग रखें , एंड में पैसों के लिए सोचना ना पड़े।  उम्मीदें है आज के इस blog में आपको डिलीवरी के समय बैग में क्या-क्या रखें इस विषय पर पूरी जानकारी मिली होंगी । आगे भी अनेक विषयों पर हम चर्चा करेंगे।  आज के ब्लॉक से संबंधित किसी भी विषय पर अगर आपकी कोई सवाल है , तो आप मुझे कमेंट में पूछ सकती है।  फिर मिलेंगे अगले ब्लॉक में तब तक के लिए अपने और अपनों का ध्यान रखें और खुश रहिए।  धन्यवाद !

Leave a Comment